[ad_1]

हाइलाइट्स

म्‍यूचुअल फंड में लगाया पैसा भी डूब सकता है.
इसलिए यहां भी पैसा काफी सोच-समझकर लगाएं.
सही रणनीति से निवेश ही आपको फायदा देगा.

नई दिल्‍ली. शेयर बाजार (Stock Market) और इससे संबंधित म्‍यूचुअल फंड (Mutual Fund) जैसे इनवेस्‍टमेंट टूल्‍स में पैसा लगाने पर घाटा होने का खतरा हमेशा बना ही रहता है. अगर यहां आप जांच-परखकर और सही रणनीत से निवेश नहीं करते हैं तो आपका पूरा पैसा भी डूब सकता है. हालांकि, इक्विटी मार्केट में पैसा लगाने पर जितना रिस्‍क है, मोटा रिटर्न मिलने की संभावना भी एफडी जैसे पारंपरिक निवेश माध्‍यमों से यहां ज्‍यादा है. अगर इनवेस्‍टमेंट के मूल नियमों का पालन करके पैसा लगाया जाए तो नुकसान होने की आशंका को काफी कम किया जा सकता है.

ऐसे निवेशक जो कम जोखिम उठाकर इक्विटी मार्केट में निवेश (Investing In Equity Market) करना चाहते हैं, उनके लिए म्‍यूचुअल फंड (Mutual Fund) एक बेहतरीन इनवेस्‍टमेंट टूल है. लेकिन, ऐसा भी नहीं है कि म्‍यूचुअल फंड में भी हमेशा मुनाफा भी हो. इसमें भी कई बार निवेश नुकसान में चला जाता है. लेकिन, म्‍यूचुअल फंड निवेश के घाटे को दूर किया जा सकता है. घाटा दूर करने को आपको कुछ इनवेस्‍टमेंट फंडे अपनाने होंगे.

ये भी पढ़ें-  हेल्‍थ इंश्‍योरेंस पॉलिसी में नहीं यह ‘खास चीज’ तो आपकी बीमा पॉलिसी है अधूरी, जेब से चुकाने होंगे पैसे

लगातार लगाते रहें पैसा
इक्विटी मार्केट में कमाई का मूल मंत्र है ‘नियमित और विविध निवेश’ (invest regularly and invest diversified). बाजार में अस्थिरता उन निवेशकों की परम मित्र है जो दीर्घावधि निवेश करते हैं. ऐसे ही जो लोग निरंतर निवेश करते हैं, उनका इनवेस्‍टमेंट कभी घाटे में नहीं रहता. निरंतर निवेश एक निवेशक को अपने पोर्टफोलियो में ज्‍यादा यूनिट जोड़ने का अवसर प्रदान करता है जब बाजार में गिरावट आती है.

बाजार में आगे क्‍या होगा, इसकी भविष्‍यवाणी करना बहुत मुश्किल है. इसलिए मंदी के प्रभाव को कम करने का एक ही तरीका है कि इसका सामना करने के लिए तैयार रहें और बाजार गिरावट में भी निवेश करते रहें.

निवेश में विविधता
सारी पूंजी एक ही जगह लगाना समझदारी नहीं है. निवेशक को अपनी पूंजी कई एसेट क्‍लास में लगानी चाहिए. यही बात म्‍यूचुअल फंड निवेश पर भी लागू होती है. इसलिए एक ही म्‍यूचुअल फंड में पैसा लगाने की बजाय कई श्रेणियों के फंडों में पैसा लगाना चाहिए. एक डायवर्सिफाइड पोर्टफोलियो मार्केट के झटके सहने मे ज्‍यादा सक्षम होता है.

SIP सबसे अच्‍छा विकल्‍प
एसआईपी यानी सिस्‍टेमैटिक इनवेस्‍टमेंट प्‍लान, निवेश का सबसे सुरक्षिततरीका है. जब आप इक्विटी मार्केट में सिप के माध्‍यम से निवेश करते हैं तो यह अस्थिरता से मुकाबला करने में आपकी बहुत मदद करता है. इससे लॉन्‍ग टर्म में निवेशक बढिया मुनाफा कमा सकता है. यहां यह जानना जरूरी है कि इक्विटी मार्केट ने दस साल की अवधि में कभी नेगेटिव रिटर्न नहीं दिया है.

Tags: Investment tips, Money Making Tips, Mutual fund, Stock market, Systematic Investment Plan (SIP)

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *