[ad_1]

नई दिल्ली. अगर आप अपने निवेश पर कोई जोखिम नहीं लेना चाहते तो फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) के साथ-साथ रेकरिंग डिपॉजिट (RD) में निवेश करने पर विचार कर सकते हैं. अगर आप एकमुश्त रकम के साथ निवेश करना चाहते हैं, तो एफडी में पैसा लगा सकते हैं. अगर आप हर महीने अपने इनकम के आधार पर निवेश करना चाहते हैं तो रेकरिंग डिपॉजिट में निवेश कर सकते हैं.

क्या होता है रेकरिंग डिपॉजिट
रेकरिंग डिपॉजिट के तहत जमाकर्ता को अपनी इनकम की एक निश्चित राशि हर महीने एक निश्चित अवधि के लिए जमा करनी होती है. मैच्योरिटी के बाद जमाकर्ता को रिटर्न के रूप में मूलधन के साथ ब्याज की रकम भी मिलती है.

HDFC बैंक आरडी इंटरेस्ट रेट
HDFC बैंक 6 महीने की अवधि पर 4.50 प्रतिशत के बीच इंटरेस्ट करता है। वहीं 9 महीने, 12 महीने और 15 महीने के लिए दी जाने वाली ब्याज दर क्रमशः 5.75%, 6.60% और 7.10% है। 24 महीने, 27 महीने, 36 महीने, 39 महीने, 48 महीने, 60 महीने, 90 महीने और 120 महीने की अवधि के लिए, एचडीएफसी बैंक 7% ब्याज दर प्रदान करता है।

SBI आरडी इंटरेस्ट रेट
SBI एक साल से दस साल तक की अवधि के लिए रेकरिंग डिपॉजिट पर 6.80% से 7% तक की ब्याज दरें प्रदान करता है। एसबीआई में मिनमम मंथली डिपॉजिट 100 रुपये और इसके गुणकों में शुरू होता है। वहीं अगर आप अपनी आरडी की किश्त भरने में देर कर देते हैं तो इस पर आपको जुर्माना देना होगा। वहीं अगर आप लगातार छह किश्तें मिस कर देते हैं तो आपका अकाउंट समय से पहले बंद कर दिया जाएगा।

ICICI बैंक आरडी इंटरेस्ट रेट
ICICI बैंक आम नागरिकों के लिए 4.75% से 7.10% और सीनियर सिटीजन्स के लिए 5.25% से 7.50% के बीच इंटरेस्ट रेट ऑफर करता है। ICICI बैंक की वेबसाइट के मुताबिक आरडी डिपॉजिट 6 महीने से लेकर 10 साल तक अवेलबल रहेगी।

Tags: Bank FD, FD Rates, Fixed deposits, Hdfc bank, ICICI bank, Money Making Tips, Sbi

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *