हाइलाइट्स

वर्टिकल फार्मिंग जमीन के समानांतर नहीं की जाती.
इसे किसी इमारत की तरह ऊपर की ओर बढ़ाया जाता है.
वर्टिकल फार्मिंग में आर्टिफिशियल लाइट की जरुरत होती है.

नई दिल्ली. जैसे-जैसे खेती योग्य जमीन कम होती जा रही है वर्टिकल फार्मिंग की मांग बढ़ती जा रही है. बढ़ती जनसंख्या की आवासीय जरुरतों को पूरा करने के लिए खेतों को खत्म कर रिहायशी इलाकों में तब्दील किया जा रहा है जिससे खेत कम हो रहे हैं. हालांकि, अनाज और खाद्य पदार्थों की मांग पहले से अधिक होती जा रही है. ऐसे में वर्टिकल फार्मिंग एक उपाय दिखता है जो भविष्य में कम जगह की परेशानी से लड़ने में मदद कर सकती है.

वर्टिकल फार्मिंग क्या होती है? खेत आमतौर पर उपजाऊ समतल जमीन होते हैं. जहां जमीन पर छोटे या बड़े क्षेत्रफल में सीधे-सीधे फसले उगाई जाती हैं. वर्टिकल फार्मिंग का आधार भी जमीन ही है बस यहां फसलें जमीन के समानांतर ना उगारक ऊपर की ओर यानी वर्टिकली उगाई जाती हैं. वर्टिकल फार्मिंग में चूंकि फसलें किसी बिल्डिंग की तरह ऊपर की ओर बढ़ाई जाती हैं इसलिए कम क्षेत्र में ही ज्यादा फसल उगाई जा सकती हैं. वर्टिकल फार्मिंग के लिए जो एरिया होता है उसे पूरी तरह ढक दिया जाता है.

ये भी पढ़ें- 50 सेकेंड के ऐड के लेती हैं 5 करोड़, 100 करोड़ के घर में ‘जवान’ हीरोइन का बसेरा, घूमने के लिए है प्राइवेट जेट

क्या है वर्टिकल फार्मिंग का तरीका?
जैसा कि हमने बताया कि वर्टिकल फार्मिंग में आपको पूरा एरिया ढक देना होता है. इसके बाद आपको वहां कृत्रिम लाइट का प्रबंध करना होता है. लाइट वर्टिकल फार्मिंग के सबसे अहम पहलुओं में से एक है. यह सब्जियों व फलों को पूरे साल उगने में मदद करती है. उस क्षेत्र के तापमान और नमी को भी आपको कंट्रोल करना होगा. फसल के लिए क्या तापमान सही रहेगा और कितनी नमी की जरुरत होगी इसे आप अपने हिसाब से नियंत्रित कर सकते हैं.

how to do vertical farming and earn 3 crores from 1 acre farm best crops to sow see <a href='https://beauty-training.eu' target='_blank'>technique</a> and method

वर्टिकल फार्म.(Canva)

किस तरह की फसल लगाएं
आप 2 तरह की फसलें लगा सकते हैं. फास्ट टर्न क्रॉप और स्लो टर्न क्रॉप. आपको इन दोनों टाइप में कई फसलें मिलती हैं. अब आपको तय यह करना होता है कि कौन सी फसल लगाने से आपका खर्च कम और मुनाफा ज्यादा होगा. फास्ट टर्न क्रॉप (जल्दी उगने वाली) में गोभी, धनिया, पुदिना और कई छोटी हरी सब्जियां आती हैं. स्लो टर्न क्रॉप में टमाटर और स्ट्रॉबेरी जैसी चीजें आती हैं. इन्हें उगाना मुश्किल तो होता है लेकिन इनसे कमाई जबरदस्त होती है.

1 एकड़ से 3 करोड़
एक रिपोर्ट के मुताबिक, चंद्रकांत पटेल नाम के गुजरात के एक बड़े किसान ने 10 करोड़ में वर्टिकल फार्मिंग सेटअप तैयार किया और हल्दी उगाना शुरू कर दिया. उन्हें हर एक एकड़ से 500-800 टन हल्दी प्राप्त हुई. यानी 1 एकड़ से उन्हें 3-3.5 करोड़ रुपये की आय प्राप्त हुई. पूरे खेत से उन्हें 14 करोड़ रुपये की हल्दी मिली. उन्हें 4 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ. यह एक बड़े किसान की बात भले हो लेकिन वर्टिकल फार्मिंग इससे छोटे में भी की जा सकती है और करोड़ों नहीं तो लाखों का फायदा कमाया जा सकता है.

Tags: Business news, Business news in hindi, Earn money, Farming



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

President isaias afwerki arrives in cairo. Plastic extrusion machine control panel was designed & assembled and tested by electronic control corporation. Wir hoffen, dass die von uns bereitgestellten informationen für sie von nutzen waren.